पशुपालक जीत सकते है 5 लाख का इनाम, लास्ट तारीख से पहले आप भी करे आवेदन

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group

पशुपालन डेयरी विभाग ने इस वर्ष राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार देने के लिए डेयरी फॉर्म के आवेदन मांगे है. इस परुस्कार के तहत पशुपालको को इनाम में पांच लाख रूपये दिए जायेगे. पशु डेयरी फॉर्म ग्रामीण क्षेत्र के लिए आय का सबसे अच्छा स्रोत है. और ग्रामीण क्षेत्र के पशुपालक इसमें अपना योगदान दे रहे है. सरकार ने गामिन क्षेत्र के लिए प्रोत्साहित करने ओर युवाओ को अच्छा रोजगार के दिए डेयरी फॉर्म पर सब्सिडी दी जा रही है. अगर आप गाय या भेष का पालन करते है और डेयरी फार्म से जुड़े है तो आप इस योजना में आवेदन कर सकते है. योजना में 5 लाख तक इनाम दिया जायेगा.

राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार के लिए आवेदन

पशुपालन एवं डेयरी विभाग ने वर्ष 2023 के राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार के लिए आवेदन आमंत्रित किए हैं। प्रथम पुरस्कार के रूप में 5 लाख, दूसरे स्थान के लिए तीन लाख, तीसरे स्थान के लिए दो लाख। यह पुरस्कार हर साल 26 नवंबर (मिल्क डे) को दिया जाता है। इस पुरस्कार के लिए पशुपालक 15 सितंबर तक आवेदन कर सकते हैं।

WhatsApp Group Join Now

यह पुरस्कार किसानों को 3 समूहों में दिया जाता है

देश में पहली बार “राष्ट्रीय गोकुल मिशन (आरजीएम)” दिसंबर 2014 में लॉन्च किया गया था। ये पुरस्कार किसानों को तीन समूहों (स्वदेशी मवेशी/भैंस नस्ल पालने वाले सर्वश्रेष्ठ डेयरी किसान, सर्वश्रेष्ठ कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन (एआईटी) पुरस्कार, सर्वश्रेष्ठ डेयरी सहकारी/दूध उत्पादक कंपनी/डेयरी किसान उत्पादक संगठन पुरस्कार) में दिए जाते हैं।

राष्ट्रीय गोपाल रत्न पुरस्कार के पात्र पशुपालक

गाय की 50 देशी नस्लों और भैंस की 18 देशी नस्लों में से किसी एक को पालने वाले किसान ही इस पुरस्कार के लिए पात्र हैं। या एक कृत्रिम गर्भाधान तकनीशियन जिसने इस कार्य के लिए कम से कम 90 दिनों का प्रशिक्षण प्राप्त किया हो। या फिर कोई दूध उत्पादक कंपनी जो प्रतिदिन 100 लीटर दूध का उत्पादन करती हो और उनसे करीब 50 किसान जुड़े हों.

यहाँ से करे आवेदन

जो किसान या पशुपालक इस योजना के पात्र है वह मापदण पूर्ण करे योजना में भाग ले सकता है, यह आप शर्ते पूर्ण करते है तो आप https://awards.gov.in पर विजिट कर आवेदन की पूर्ण प्रकिरिया जान सकते है.